cleanmediatoday@gmail.com

News

Tuesday, 31 January 2012

कुशवाहा के खिलाफ सीबीआई जाँच की सिफारिस

cleanmediatoday.blogspot.com

कुशवाहा के खिलाफ सीबीआई जाँच की सिफारिस 
क्लीन मीडिया संवाददाता 

लखनऊ: 31 जनवरी, (सीएमसी) उत्तर प्रदेश के लोकायुक्त न्यायमूर्ति एन के मेहरोत्रा ने राज्य के पूर्व परिवार कल्याण और खनन मंत्री तथा सत्तारढ़ बसपा से निष्कासित नेता बाबू सिंह कुशवाहा के विरद्ध मिली भ्रष्टाचार की तीन शिकायतों की सीबीआई जांच की संस्तुति की है जो हाल ही में उन्हें बगलगीर बनाने वाली भाजपा के लिये परेशानी का सबब बन सकती है।
 लोकायुक्त मेहरोत्रा ने बताया, कुशवाहा के विरद्ध मिली भ्रष्टाचार की तीन शिकायतों की जांच के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री मायावती को रिपोर्ट भेज दी गयी है और उनके विरूद्ध भ्रष्टाचार निवारण एवं धन शोधन कानून के तहत प्राथमिकी दर्ज करके सीबीआई अथवा सतर्कता महानिदेशालय से जांच कराये जाने की संस्तुति की गयी है।
 लोकायुक्त ने बताया कि कुशवाहा ने उनके विरूद्ध आयी तीन शिकायतों में से दो का तो जवाब ही नहीं दिया जबकि तीसरी में जो जवाब दाखिल किया उस पर हस्ताक्षर नहीं थे और आरोपो से इन्कार भी नहीं किया गया था। लोकायुक्त ने अपनी रिपोर्ट में यह भी कहा है कि जांच एक महीने में पूरी करवायी जाये।
 न्यायमूर्ति मेहरोत्रा ने बताया कि कुशवाहा के विरद्ध तीन शिकायतें मिली थीं , उनमें पहली यह थी कि कुशवाहा ने रेडिकल टाइम्स और अग्निपथ जैसे स्थानीय और अचर्चित समाचार-पत्रों में विज्ञापन देकर फर्जी आवेदन मंगवाये और बांदा तथा महोबा में अपने लोगों को खनन के पट्टे आवंटित किये।
 खनन के लिये केन्द्र सरकार के पर्यावरण मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाण-पत्र भी नहीं लिया गया और खनन में बिना अनुमति के मशीनों का प्रयोग किया गया। उन्होंने बताया कि कुशवाहा के विरद्ध दूसरी शिकायत यह मिली थी कि उन्होंने लखनऊ, झांसी और कानपुर में पांच सोसायटियों एवं फर्मो का रजिस्ट्रेशन करवा कर भ्रष्टाचार से कमाई संपत्ति का लेनदेन किया जिनमें से दर्पण मर्केन्टाइल नाम से एक पार्टनरशिप फर्म मुंबई में है।
 मेहरोत्रा ने बताया कि तीसरी शिकायत यह थी कि कुशवाहा और उनकी पत्नी ने दो-दो नामों से संपत्तियों का आदान-प्रदान किया। उन्होंने बताया कि दो मामलों में कुशवाहा की तरफ से कोई जवाब ही दाखिल नहीं किया गया जबकि एक मामले में जो जवाब आया उस पर दस्तखत नहीं थे और उन्होंने किसी आरोप से इन्कार भी नहीं किया। 

No comments:

Post a Comment