News

Monday, 5 March 2012

बिहार में बनेगा विश्व का सबसे ऊंचा मंदिर

cleanmediatoday.blogspot.com
बिहार में बनेगा विश्व का सबसे ऊंचा मंदिर

क्लीन मीडिया संवाददाता 


पटना: 5 मार्च: (सीएमसी)  कंबोडिया के विश्वप्रसिद्ध अंकोरवाट हिंदू मंदिर का प्रतिरूप बिहार के वैशाली जिले में इस्माइलपुर के पास बनवाया जाएगा। लगभग 100 करोड रुपये की लागत से बनाये जाने वाले इस मंदिर का सोमवार को भूमि पूजन किया जायेगा।
महावीर मंदिर ट्रस्ट के सचिव किशोर कुणाल ने बताया कि पांच मार्च को अंकोरवाट मंदिर की तर्ज पर इस्माइलपुर के पास भव्य मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम होगा। पटना स्थित श्री महावीर स्थान न्यास समिति यह मंदिर बनवायेगी।
उन्होंने कहा कि 12वीं सदी के इस पुरातन मंदिर के प्रतिरुप का निर्माण वैशाली जिले के मुख्यालय हाजीपुर से पांच किलोमीटर दूर हाजीपुर बिदुपुर मार्ग पर होगा। यह मंदिर 15 एकड में फैला होगा और इसे विरोट अंकोरवाट राम मंदिर के नाम से जाना जाएगा। पूरी परियोजना पर करीब 100 करोड रुपये खर्च होंगे। कुणाल ने बताया कि मंदिर का निर्माण कार्य तीन से पांच वर्ष के भीतर पूरा हो जाएगा। इस मंदिर को संपूर्ण रुप देने में 10 वर्ष लग जायेंगे।
उन्होंने बताया कि महावीर मंदिर न्यास की ओर से शुरू में 20 करोड़ रुपये दिये जायेंगे और देश भर के रामभक्तों की ओर से इस मंदिर के निर्माण में सहयोग राशि मिलेगी।
आचार्य कुणाल ने बताया कि इस्माइलपुर के पास बनने वाला मंदिर विश्व में एक अनूठा मंदिर होगा। इसका शिखर 222 फुट उंचा होगा। इसलिए यह विश्व का सबसे उंचा मंदिर होगा। मंदिर का पूरा परिसर एक लाख वर्ग फुट में फैला होगा। उन्होंने कहा कि अंकोरवाट की तरह यह मंदिर भी पांच मंजिला होगा और राम तथा सीता के अतिरिक्त इसमें शिव पार्वती, राधा कृष्ण, गणेश, सूर्य और दशावतार की प्रतिमाएं स्थापित होंगी।
उन्होंने बताया कि मंदिर के निर्माण में करीब 30 करोड रुपये खर्च होंगे और प्रतिमाएं स्थापित करने और संपूर्ण रूप प्रदान करने में करीब 40 करोड रूपये लगेंगे। मंदिर के लिए जमीन का अनुमानित मूल्य करीब 30 करोड रुपये है।
बारहवीं सदी में कंबोडिया के हिंदू राजा सूर्यदेव वर्मन ने अंकोरवाट मंदिर का निर्माण कराया था। इसे यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में भी स्थान दिया गया है।

No comments:

Post a Comment